Makhana- मिथिला का मखान

Makhana- मिथिला का मखान

₹85
Availability: In Stock
Ex Tax: ₹85
Product Code: Makhana- मिथिला का मखान

Check Delivery at Your Location

+

पोखर,तालाब, झील, दलदली क्षेत्र के शांत पानी में उगने वाला मखान पोषक तत्वों से भरपुर एक जलीय उत्पाद है। मखान के फल को भूनकर इसका उपयोग मिठाई, नमकीन, खीर आदि बनाने में होता है। मखान में 9.7% आसानी से पचनेवाला प्रोटीन, 76% कार्बोहाईड्रेट, 12.8% नमी, 0.1% वसा, 0.5% खनिज लवण, 0.9% फॉस्फोरस एवं प्रति १०० ग्राम 1.4 मिलीग्राम लौह पदार्थ मौजूद होता है। इसमें औषधीय गुण भी होता है।
मखान का उत्पादन:-
बिहार के दरभंगा, मधुबनी, समस्तीपुर, सहरसा, सुपौल, सीतामढी, पूर्णिया, कटिहार आदि जिलों में मखान का सार्वाधिक उत्पादन होता है। मखान के कुल उत्पादन का ८८% बिहार में होता है।

मखान देखने में तो गोल मटोल सूखे दिखाई देते है पर यह कई औषधीय गुणों से भरपूर होते है । हमारे स्वास्थ्य को तंदरूस्त रखने में मदद करते है। मखान का प्रयोग हम भोजन में भी कर सकते है। मखान में प्रोटीन और कार्बोहाइड्रेट भरपूर मात्रा में पाए जाते है। मखान से तैयार खीर बहुत ही स्वादिष्ट होती है। सब्जी और भुजिया में भी मखान डालें जाते हैं। मखान खाने से शरीर को कई रोगों से छुटकारा मिलता है।

- मखान का सेवन करने से कई रोगों से राहत मिलती है। हृदय रोग, काँलेस्ट्राल, ब्लड प्रेसर पर भी नियंत्रण पाया जा सकता है।

- मखान का सेवन करने से शरीर के किसी भी अंग में हो रही दर्द से राहत मिलती है। कमर दर्द और घुटने में हो रही दर्द से छुटकारा पाया जा सकता है।

- मखान को देसी घी में भूनकर खाने से दस्त जैसे रोग से छुटकारा पाया जा सकता है।

- मखान का सेवन करने से शरीर में हो रही जलन से भी राहत मिलती है।

- मखान का नियमित सेवन करने से शरीर की कमजोरी दूर होती है और हमारा शरीर सेहतमंद रहता है।

Write a review

Please login or register to review